Monthly Archives: January 2017

जीवन हो तुम…

क्या है नये साल के मायने…  नवचेतना, नवमंत्रणा, नवप्राण है, नवयुक्तियाँ। जी हाँ, नया साल माने सब कुछ नया सा। कुछ पुराना नहीं। पुराना कुछ हमें रास भी तो नहीं। सबमें नवीनता पसन्द है हमें। साफ़-साफ़, सुथरा- सुथरा। इसिलिये शायद … Continue reading

Posted in Uncategorized | Leave a comment